B.Ed. kya hota hai? बी.एड. क्या हैं? सम्पूर्ण जानकारी

नमस्कार दोस्तों , आपने अक्सर किसी न किसी से बी.एड (B.Ed.) के बारे में जरुर सुना होगा और आपके मन में ये सवाल भी आया होगा की आखिर ये  B.Ed. kya hai, B.Ed. kya hota hai तो दोस्तों आज हम आपके जो भी सवाल है B.Ed. को लेकर उन सभी के बारे में पूर्ण जानकारी इस पोस्ट के माध्यम से देने वाले है और आशा करते है की ये पोस्ट पढने के बाद आपको कोई और दुविधा नही होगी B.Ed. या B.Ed. Admission के बारे में


तो आइए पहले देख लेते है की हम किन-किन विषयों पर आज बात करने वाले है

B.Ed. kya hai, B.Ed. kya hota hai

B.Ed. का फुल फॉर्म होता है “बैचलर इन एजुकेशन ” ( BACHELOR IN EDUCATION ) मतलब यह शिक्षण क्षेत्र की स्नातक स्तर की एक डिग्री है|

B.Ed. 2Years Course शिक्षण क्षेत्र की एक विशेष डिग्री होती है B.Ed. शिक्षक बनने के लिए एक महत्वपूर्ण डिग्री होती है अगर आप शिक्षक बनना चाहते है तो आपको B.Ed. Degree की आवश्यकता होती है कहा जाता है की शिक्षक राष्ट्र निर्माण में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और एक शिक्षक होना अपने आप में गर्व की बात है तो अगर आप या आपका कोई परिचित शिक्षक बनना चाहते है उन्हें B.Ed. 2Years Degree करनी होगी |

B.Ed. Kitne saal ka hota hai (B.Ed. course Duration)

वेसे B.Ed. course 2 साल का भी होता है और  B.Ed. course 4 साल का भी होता है B.Ed. Kitne saal ka hota hai (B.Ed. course Duration) इस विषय के बारे में जानने से पहले में आपको बताना चाहता हु की B.Ed. course आप दो तरीके से कर सकते है और दोनों ही कोर्सेज में B.Ed. course की अवधि अलग-अलग होती है

एक तो आप B.Ed. course 12th के बाद कर सकते है और एक ग्रेजुएशन के बाद तो 12th के बाद B.Ed. course 4 साल का होता है और ग्रेजुएशन के बाद B.Ed. course 2 साल का होता है इसके बारे में विस्तृत जानकारी हम आगे इसी पोस्ट के माध्यम से आपको बताएँगे |

बीएड कोर्स के लिये योग्यता | B.Ed. Course Eligibility

जेसा की आपने उपर पढ़ा की B.Ed. course आप दो तरीके से कर सकते है तो दोनों ही परिस्थितियों में बीएड कोर्स के लिये योग्यता | B.Ed. Course Eligibility अलग-अलग होना स्वभाविक है

B.Ed. 4 Years Course के लिए न्यूनतम योग्यता 50 प्रतिशत अंको के साथ 12th उत्तीर्ण होना अनिवार्य है । चाहे 12th  किसी भी विषय जेसे आर्ट्स, कॉमर्स या साइंस में हो आप B.Ed. 4 Years Course के लिए योग्य है और ध्यान रहे 12th आपकी मान्यता प्राप्त बोर्ड / विश्वविद्यालय से उत्तीर्ण होनी अनिवार्य है ।

B.Ed. 2 Years Course के लिए न्यूनतम योग्यता 50 प्रतिशत अंको के साथ मान्यता प्राप्त बोर्ड / विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन उत्तीर्ण होना अनिवार्य है चाहे  बैचलर ऑफ आर्ट्स (बीए), बैचलर ऑफ साइंस (बीएससी) या बैचलर ऑफ कॉमर्स (बीकॉम) व अन्य स्नातक सभी B.Ed. 2 Years Course के लिए मान्य है |

और यदि आपके स्नातक(ग्रेजुएशन) में 50% से कम है किन्तु पोस्ट ग्रेजुएशन (परास्नातक) में 50% है तो भी आप B.Ed. 2 Years Course के लिए पूर्णतय योग्य है|

तो अगर आप 12th के बाद B.Ed. Course करते है तो आपके 12th में 50% या उससे अधिक अंकों के साथ एक मान्यता प्राप्त बोर्ड / विश्वविद्यालय से उत्तीर्ण होना अनिवार्य है ।

12th के बाद आप BA+B.Ed. 4 Years Integrated Course या Bsc+B.Ed. 4 Years Integrated Course इन दो कोर्सेज के माध्यम से B.Ed. Course कर सकते है और इस B.Ed. Course की अवधि 4 साल होती है क्युकी इसमें आपकी ग्रेजुएशन और B.Ed. Course एक साथ पुरे हो जाते है और इस तरह से आपका एक कीमती साल भी बच जाता है|

B.Ed. Course Kaise Kare (How to take Admission in B.Ed. Course)

अब अगर आपकी  B.Ed. Course करने में रूचि बन गयी है तो अब आप ये सोच रहे होंगे की आखिर B.Ed. Course Kaise Kare (How to take Admission in B.Ed. Course) तो चलिए आपको इस बारे में भी बताते है देखिये आप B.Ed. Course में Admission पुरे भारत में 2 तरीके से होते है ऐसा इसलिए है क्यूंकि कुछ राज्यों में B.Ed. Course के लिए Seats पर्याप्त मात्रा में नही है ऐसे राज्यों में B.Ed. Course में प्रवेश लेने के लिए आपको B.Ed के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam) देना होता है | और जिस राज्य में पर्याप्त मात्रा में B.Ed. Course के लिए Seats उपलब्ध है वहां आपको ये एग्जाम नही देना पड़ता | 

चलिए इन दोनों तरीको के बारे में विस्तार से समझते हैं|


B.Ed के लिए प्रवेश परीक्षा | Entrance Exam for B.ed

जेसा की हमने आपको बताया हैं क्यूंकि कुछ राज्यों में B.Ed. Course के लिए Seats पर्याप्त मात्रा में नही है ऐसे राज्यों में B.Ed. Course में प्रवेश लेने के लिए आपको B.Ed के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam) देना होता है 

ये परीक्षा हर साल आम तौर पर जून-जुलाई महीने में आयोजित होती हैं इसमें अंग्रेजी, सामान्य ज्ञान, प्रयोग, मूल अंकगणित शिक्षण क्षमता और एक स्थानीय भाषा के बारे में प्रश्न पूछे जाते हैं और परीक्षा के परिणाम आम तौर पर जुलाई / अगस्त तक आ जाते हैं। इस परीक्षा के परिणाम में आपको आपके परीक्षा के स्कोर के अनुसार रैंक मिलता है फिर आपको काउंसलिंग के लिए अप्लाई करना होता हैं फिर आपको अपनी रैंक के अनुसार उचित कॉलेज मिल जाता हैं जिसकी रैंक जितनी अच्छी होती हैं उतना अच्छा कॉलेज मिल जाता हैं

यहाँ आप ध्यान दीजिये अगर आपकी रैंक काफी अच्छी होती है तो आपको सरकारी कॉलेज में प्रवेश मिल जाता हैं

 


बिना Entrance Exam के B.Ed. Course में Admission

अब जहाँ पर B.Ed. Course के लिए Seats पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध होती हैं वहां पर आपको B.Ed के लिए प्रवेश परीक्षा | Entrance Exam for B.ed देने की जरूरत नहीं होती हैं वहां पर आपकी ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन में अंको की प्रतिशत के अनुसार आपको उचित कॉलेज अलोट हो जाता हैं | यहाँ भी अच्छी प्रतिशत से आपको अच्छा सरकारी कॉलेज अलोट हो जाता हैं |

बीएड करने में कितनी फीस लगेगी ? B.Ed. Course Fees

अब आपके मन में ये सवाल जरुर आ रहा होगा की आखिर बीएड करने में कितनी फीस लगेगी ? B.Ed. Course Fees तो देखिय ये कई चीजों पर निर्भर करती हैं जेसे की आप किस राज्य से हो और कोन सा कॉलेज हैं लेकिन फिर में आपको एक अनुमान बता देता हूँ

तो जेसा की आपको समझ आता है की अगर आपका सरकारी कॉलेज में एडमिशन हुआ हो तो आपकी फीस काफी कम होती हैं लगभग 20,000  से 50,000 प्रति वर्ष तक हो सकती है अलग अलग राज्यों के हिसाब से |

और अगर प्राइवेट कॉलेज की बात करे तो इनमे 50,000 से लेकर 1 लाख प्रति वर्ष तक हो सकती हैं |

और यदि आप डिस्टेंस एजुकेशन से B.Ed. Course करते है तो फीस काफी कम होती हैं |

बीएड सब्जेक्ट्स | B.Ed. Subjects 

B.Ed. Course में आपको कई सारे विषयों के बारे में पढ़ाया जाता हैं क्यूंकि एक शिक्षक को एक अच्छा शिक्षक बनने के एक अच्छे ज्ञान की जरूरत होती हैं तो B.Ed. Course Subjects में निम्नलिखित विषयों के बारे में पढाया जाता हैं |

शिक्षा, संस्कृति और मानव मूल्य
शैक्षिक मूल्यांकन और आकलन
शैक्षणिक मनोविज्ञान
मार्गदर्शन और परामर्श
समग्र शिक्षा
शिक्षा का दर्शन
जैविक विज्ञान प्राकृतिक विज्ञान
व्यापार शारीरिक शिक्षा
कंप्यूटर विज्ञान भौतिक विज्ञान
अर्थशास्त्र विशेष शिक्षा
अंग्रेज़ी तमिल
भूगोल गणित

बीएड कोर्स (B.Ed Course) के लाभ

  • B.Ed. Course  के बाद आप शिक्षक बन सकते हो
  • B.Ed. Course  बाद आप किसी नही निजी व सरकारी स्कूल में शिक्षक बन सकते हो |
  • B.Ed. Course  के बाद आप अपना खुद का निजी कोचिंग संस्थान या स्कूल भी खोल सकते हो |
  • B.Ed. Course  के बाद आप आप M.Ed. Course  कर सकते हो|
  • B.Ed. Course  के बाद आप किसी भी राज्य का TET यानि Teacher Eligibility Test (शिक्षक पात्रता परीक्षा) देकर सरकारी शिक्षक के रूप में अपनी सेवाए दे सकते हो |
  • B.Ed. Course के बाद आप Education consultant के रूप में भी अपनी सेवाए दे सकते हो |

बीएड कोर्स से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

1. B.Ed कितने वर्ष का कोर्स है?

Ans. बीएड एक प्रोफेशनल ग्रेजुएशन डिग्री कोर्स है जिसकी अवधि 2 वर्ष है।

2. B.Ed कोर्स की फीस क्या होती हैं ?

Ans. यह आमतोर पर 20,000 से 60,000 प्रति वर्ष होती हैं |

3. B.Ed कोर्स के लिए योग्यता क्या हैं ?

Ans. 2 वर्षीय B.Ed के लिए ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन में 50 प्रतिशत या उससे अधिक

4. B.Ed टीचर की सैलरी कितनी होती है?

Ans. एक अनुभवी बी.एड. टीचर का औसत वेतन अनुमानित तौर पर 3 लाख रूपये प्रति वर्ष तक हो सकता है।

5. क्या Private कॉलेज से बी.एड किया जा सकता है?

Ans. जी हाँ, छात्र प्राइवेट या सरकारी कॉलेज से बीएड बैचलर डिग्री कर सकता है।

6.B.Ed करने के लिए आयु सीमा क्या है?

Ans. आप 21 से 35 वर्ष की आयु सीमा के भीतर बी.एड कर सकते है।

Conclusion (निष्कर्ष )

तो दोस्तों हमने उपर आपको B.Ed. Course के बारे में पर्याप्त जानकारी दी हैं अब आप अपने विवेक से ये निर्णय करने में पूर्णतया समर्थ हैं की आपको B.Ed. Course  क्यों करना चाहिए या क्यों नही करना चाहिए लेकिन फिर भी में अपनी व्यतिगत राय भी आपको बताना चाहते हूँ

देखिये अगर आपको शिक्षक बनना हैं तो B.Ed. Course आपके लिए एक बहुत ही अच्छा विकल्प हैं आप सरकारी व प्राइवेट दोनों तरह के शिक्षक बन सकते हो B.Ed. Course  करके

इसके अलवा आप B.Ed. Course के बाद M.Ed. Course करके आप और भी उच्च स्तर के मुकाम को हासिल कर सकते हैं |

तो दोस्तों हमें उम्मीद हैं की आपको यह लेख पसंद आया होगा इस लेख के माध्यम से आपको B.Ed. Course के बारे में स्पष्ट जानकारी मिल गयी होगी आप इस लेख को अपने परिवार व मित्रगण के साथ साँझा कीजिये जो B.Ed. Course करने की इच्छुक हैं|

इस पोस्ट को लेकर अगर कोई सुझाव या आप कोई सवाल आपके मन में हो तो आप कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं | यहाँ अंत तक जुड़े रहने के लिए धन्यवाद |

Leave a Comment